कोरोना की दूसरी लहर के बाद दो बड़ी फार्मा कंपनियों ने इंदौर की ओर रुख किया है। गुजरात नवसारी की गूफिक बायोसाइंसेस लिमिटेड कंपनी ने पीथमपुर में 50 एकड़ जमीन के लिए एमपीआईडीसी के साथ करार कर लिया है। यह कंपनी रेमडेसिविर से लेकर फंगल इंफेक्शन, कोरोना में लगने वाली एजिथ्रोमाइसिन व अन्य दवाएं बनाने का काम करती है।

कंपनी यहां पर 139 करोड़ रुपए का निवेश करेगी और इसने यहां 1100 लोगों को रोजगार देने का वादा किया है। इसी के साथ केंद्र सरकार की सार्वजनिक उपक्रम कर्नाटक एंटीबायोटिक एंड फार्मास्यूटिकल द्वारा भी पहली बार कर्नाटक के बाहर अपना प्लांट स्थापित किया जा रहा है और इसके लिए उन्होेंने इंदौर को चुना है। कंपनी दो जगह जमीन देख चुकी है इसमें से एक को फाइनल किया जाएगा।

Comments

Related Posts

हवाई अड्डे के विस्तार के हिस्से के रूप में, बड़े हवाई जहाजों को उधार देने के लिए हवाई पट्टी की लंबाई ...
Team IndoreHD
July 26, 2021
लंबे समय बाद 26 जुलाई से प्रदेश में सरकारी व प्राइवेट स्कूलों में 11वीं-12वीं की पढ़ाई शुरू होगी। सभी ...
Team IndoreHD
July 26, 2021
इंदौर, लक्षित कोविड-19 वैक्सीन खुराक का 50% प्रशासित करने वाला पहला जिला बनने के लिए तैयार है, ...
Team IndoreHD
July 21, 2021
X