दुनिया को कोरोना मुक्त बनाने के लिए नेशनल इंस्टिट्युट ऑफ मेडिकल साइंस जयपुर और पतंजलि अनुसंधान केंद्र के संयुक्त प्रयास ने कोरोनिल टैबलेट की खोज कर बहुत बड़ी उपलब्धि हासिल की है। जैसे भारत के आयुष मंत्रालय ने कहा है की कोरोनावायरस के इलाज़ के लिए आयुर्वेद बहुत कारगर है, उसी के चलते पतंजलि ने आज लॉन्च की उनकी “कोरोनिल टैबलेट ” .

योग गुरु रामदेव द्वारा संचालित पतंजलि आयुर्वेद उत्तराखंड के हरिद्वार में पतंजलि योगपीठ में मंगलवार को नॉवेल कोरोनवायरस वायरस के इलाज में मदद करने के लिए एक आयुर्वेदिक दवा कोरोनिल लॉन्च की। इस महीने की शुरुआत में, पतंजलि के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ), आचार्य बालकृष्ण ने दावा किया था कि कंपनी ने SARS-CoV-2 वायरस के कारण COVID-19 का इलाज ढूंढ लिया है।

बाबा रामदेव ने बताया कि COVID-19 रोगियों को जो कोरोनिल दिया गया था – जो अश्वगंधा, गिलोय और तुलसी के मिश्रण से बनता है और इसका क्लीनिकल ट्रायल भी सफलता पूर्वक हो चूका है। बालकृष्ण ने दावा किया कि कंपनी द्वारा विकसित यह आयुर्वेदिक दवा कोरोनोवायरस के रोगियों को 5-14 दिनों के भीतर ठीक करने में सक्षम है।फिलहाल इसका प्रॉडक्‍शन हरिद्वार की दिव्‍य फार्मेसी (Divya Coronil Tablet) और पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड कर रहे हैं।

जानिये करोनिल दवा के बारे में सारी
महत्वपूर्ण जानकारी

1. पतंजलि के एंटी-कोविड ​टैबलेट को दिव्य कोरोनिल टैबलेट कहा गया है, और उनके सीईओ के अनुसार, कोरोनिल में गिलोय, अश्‍वगंधा, तुलसी, श्‍वसारि रस और अणु तेल का मिश्रण है।

2. नाश्ते, दोपहर और रात के खाने के 30 मिनट बाद दिन में तीन बार गर्म पानी के साथ लेने के लिए निर्देशित किया गया है।

3.  उनका दावा है कि कोरोनिल कोविड-19 मरीजों को 5 से 14 दिन में ठीक कर सकती है।

4. बालकृष्‍ण के मुताबिक, कोविड-19 आउटब्रेक शुरू होते ही साइंटिस्‍ट्स की एक टीम इसी काम में लग गई थी। पहले स्टिमुलेशन से उन कम्‍पाउंड्स को पहचाना गया तो वायरस से लड़ते और शरीर में उसका प्रसार रोकते हैं।

5. सैकड़ों पॉजिटिव मरीजों पर इस दवा की क्लिनिकल केस स्‍टडी हुई जिसमें 100 प्रतिशत नतीजे मिले। उनका दावा है कि कोरोनिल कोविड-19 मरीजों को 5 से 14 दिन में ठीक कर सकती है।

6. पतंजलि के बालकृष्ण जी के अनुसार यह आयुर्वेदिक एंटी Covid किट का मूल्य लगभग Rs.545/- है , जिसमे लगभग एक महीने के उपचार जितनी दवा दी जाएगी|

7. इसके अतिरिक़्त पतंजलि ने इम्यून बूस्टर किट भी बाजार में उतारी है , जिसमें विभिन्न आयुर्वेदिक औषधियां हैं और इसका मूल्य लगभग Rs .435 /- इस किट का प्रमुख उद्देश्य रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना होगा

8. अन्य दवाओं में शामिल हैं दिव्य स्वरसारी वटी, पतंजलि गिलोय घनवटी, पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल, दिव्य अश्वगंधा घनवटी:, पतंजलि तुलसी घनवती और दिव्य अनु ताएला और दिव्या स्वसारी वटी (नाक संबंधी चिकित्सा के लिए)।

कैसी करती है करोनिल दवा कोरोना को ख़त्म

पतंजलि के अनुसार, अश्‍वगंधा से कोविड-19 के रिसेप्‍टर-बाइंडिंग डोमेन (RBD) को शरीर के ऐंजियोटेंसिन-कन्‍वर्टिंग एंजाइम (ACE) से नहीं मिलने देता। यानी कोरोना इंसानी शरीर की स्‍वस्‍थ्‍य कोशिकाओं में घुस नहीं पाता। वहीं गिलोग कोरोना संक्रमण को रोकता है। तुलसी कोविड-19 के RNA पर अटैक करती है और उसे मल्‍टीप्‍लाई होने से रोकती है।

पतंजलि ने, स्वसारी क्वाथ, अश्वशिला कैप्सूल, च्यवनप्राश, शहद, इम्यूनोचार्ज, ऐलो वेरा जूस, गिलोय जूस, शिलाजीत कैप्सूल, दूध के साथ 1-1 बूंद शिलाजीत सत और हल्दी (हल्दी) या पतंजलि शुद्ध केसर के सेवन की सलाह दी।

टीम IndoreHD आशा करता है की , भारत की यह आयुर्वेदिक दवा कोविड-19 की इलाज के लिए मददगार साबित होगी और भार्तुय आयुर्वेदिक पद्दति का दुनिया में पुनः परचम लहराएगी | भारत की मेक इन इंडिया पालिसी का यह एक उत्कृष्ट प्रोडक्ट बनेगी और देश और दुनिया को कोरोना मुक्त बनाएगी

Comments

Related Posts

Today Prime Minister Modi will be inaugurating Asia's biggest solar power plant in Rewa MP through ...
Team IndoreHD
July 10, 2020
कोविड-19 की महामारी को सँभालने के लिए इंदौर प्रशासन ने यह तय किया है की रविवार को इंदौर में कर्फ्यू ...
Team IndoreHD
July 9, 2020
स्वच्छता की मुहिम को और आगे बढ़ाते हुए, इंदौर के निगम ने यह फैसला लिया है की , जो भी वार्ड ज़ीरो वैस्ट ...
Team IndoreHD
July 9, 2020
X